सोते समय सिरहाने रख लीजिए यह चीज खराब ग्रह नहीं पहुंचाएंगे नुकसान..

सोते समय सिरहाने रख लीजिए यह चीज खराब ग्रह नहीं पहुंचाएंगे नुकसान..


विश्व प्रसिद्ध आध्यात्मिक एवं ज्योतिष, वास्तु, तंत्र गुरु डॉ मनीष साईं जी के अनुसार ग्रह-नक्षत्र का परिवर्तन हर इंसान को प्रभावित करता है। अगर कुंडली में कोई ग्रह उच्च स्थान पर है तो जीवन के हर क्षेत्र में सफलता मिलती है लेकिन अगर निम्न स्थान पर है तो तनाव मिलता है। ज्योतिष शास्त्र में बताया गया है कि सोते समय अगर तकिए के नीचे ग्रह-नक्षत्रों से संबंधित चीजें रखेंगे तो नकारात्मक प्रभाव से बच सकेंगे। ये चीजें ऐसी हैं कि हर किसी के घर पर आसानी से मिल जाएंगी। अगर आपके जीवन में कोई परेशानी चल रही है या फिर आर्थिक समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है तो हो सकता है कि आपकी जिंदगी पर ग्रह-नक्षत्रों का प्रतिकूल प्रभाव हो। इस तरह के प्रतिकूल प्रभाव को अनुकूल बनाने के लिए कुछ उपाय दिए गए हैं, इनको करने से धन संबंधित समस्याओं का भी अंत होता है। गुरु मनीष साईं जी से जानते हैं कि किस ग्रह के प्रभाव से आपकी स्थिति सही नहीं चल रही है तो कौन से उपाय आपकी जिंदगी को बदल सकता है।


▪️कुंडली में सूर्य दोष है तो यह रखें...

अगर आपकी कुंडली में ग्रहों के राजा सूर्य की दशा सही नहीं चल रही है या फिर सूर्य का प्रतिकूल प्रभाव आपकी जिंदगी पर चल रहा है तो रात को सोने से पहले पलंग के नीचे तांबे के बर्तन में पानी रखें और तकिए के नीचे लाल चंदन रख दें। फिर सुबह उठकर उस पानी को पिएं। ऐसा करने से सूर्य का शुभ दशा आपके जीवन पर पड़ेगी और उच्च क्षेत्र में आपका प्रभुत्व बढ़ेगा।


▪️कुंडली में चंद्र दोष है तो यह रखें...

ज्योतिष में चंद्रमा को ऐशवर्य, सुख, व्यवसाय, मानसिक शांति आदि का कारक ग्रह माना गया है और इसके अशुभ प्रभाव से ये सभी चीजें प्रभावित होती हैं। अगर आपकी कुंडली में चंद्रदेव की दशा सही नहीं चल रही या फिर उनका प्रतिकूल प्रभाव पड़ रहा है तो पलंग के नीचे चांदी के बर्तन में पानी रखें और तकिए के नीचे चांदी की अंगूठी या फिर कोई अन्य आभूषण रख दें। ऐसा करने से कुछ दिनों के अंदर आपकी सेहत में सुधार आएगा और धीरे-धीरे आपकी जिंदगी में आने वाली परेशानियां भी खत्म होना शुरू हो जाएंगी।


▪️कुंडली में मंगल दोष है तो यह रखें...


ज्योतिषशास्त्र के अनुसार, ग्रहों के सेनापति मंगल ऊर्जा, योद्धा, साहस, निडर आदि के कारक ग्रह हैं। अगर कुंडली में मंगल की दशा स्थिति सही नहीं है तो शत्रुओं का भय बना रहता है और उनके द्वारा बने बनाए काम भी बिगड़ जाता है इसलिए मंगल दोष दूर करने के लिए पलंग के नीचे कांसे के बर्तन में पानी भरकर रख दें और तकिए के नीचे सोने का कोई आभूषण रख दें। ऐसा करने से मंगल के अशुभ प्रभाव से मुक्ति मिलेगी और मंगल दोष भी खत्म होगा।

▪️कुंडली में बुध दोष है तो यह रखें...

ज्योतिषशास्त्र के अनुसार, ग्रहों के राजकुमार बुध को विज्ञान, व्यापार, संचार, अनुसंधान आदि का कारक ग्रह माना गया है। अगर कुंडली में बुध की स्थिति सही नहीं होती है तो ये सभी चीजें प्रभावित होती हैं। किसी न किसी रूप में इनका अशुभ प्रभाव व्यक्ति के जीवन पर पड़ता है। इसके लिए तकिए के नीचे सोने का कोई भी आभूषण जैसे अंगूठी, बाली या कंगन रखकर इनसे लाभ प्राप्त किया जा सकता है और बुध के प्रतिकूल प्रभाव को कम कर सकते हैं।

▪️कुंडली में बृहस्पति देव का दोष है तो यह रखें...


ज्योतिषशास्त्र में बताया गया है कि देवताओं के गुरु बृहस्पति देव को भाग्य और प्रचुरता आदि के कारक ग्रह माने गए हैं। कुंडली में अगर गुरु शुभ स्थिति में है तो भाग्य हमेशा साथ देता है और जीवन के हर क्षेत्र में उससे सफलता मिलती है लेकिन अगर गुरु शुभ फल नहीं दे रहे हैं तो कई काम में परेशानी ही हाथ लगती है इसके लिए तकिया के नीचे हल्दी की गांठों को पीले कपड़े में बांधकर तकिए के नीचे रख दें। ऐसा करने से गुरु बृहस्पति शुभ फल देते हैं और नौकरी, व्यापार व कारोबार में उन्नति होती है।



▪️कुंडली में शुक्र दोष है तो यह रखें-


ज्योतिषशास्त्र के अनुसार, कुंडली में शुक्र का सौम्य ग्रह माना गया है और यह भौतिक सुख-सुविधा, आभूषण, ऐशवर्य, सौंदर्य प्रेम आदि का कारक ग्रह माना जाता है। अगर आपकी कुंडली में शुक्र की दशा सही नहीं चल रही है और शुक्र अशुभ फल दे रहा है तो यह सभी चीजें प्रभावित होती हैं। इसके लिए आप तकिए के नीचे चांदी की मछली तकिए के नीचे रखें और पलंग के नीचे चांदी के बर्तन में पानी भरकर रख दें। ऐसा करने से शुक्र के अशुभ प्रभाव से मुक्ति मिल सकती है।

▪️कुंडली में शनि देव दोष तो यह रखें...



न्याय के देवता शनि अगर कुंडली में शुभ स्थिति में नहीं हैं तो ढैय्या या साढ़ेसाती का अशुभ प्रभाव व्यक्ति पर पड़ता है और अगर शुभ स्थिति में हैं तो जीवन में कभी किसी चीज की कमी नहीं रहती है और शनिदेव का आशीर्वाद प्राप्त होता है। अगर आप शनि ग्रह के अशुभ प्रभाव से पीड़ित हैं और शनिदोष को खत्म करना चाहते हैं तो पलंग के नीचे लोहे के बर्तन में पानी भरकर रख दें और सुबह उसको पी लें साथ ही तकिए के नीचे लोहे का छल्ला या फिर नीलम रख दें। ऐसा करने से कुंडली में शनि की स्थिति शुभ रहेगी और ढैय्या और साढ़ेसाती का अशुभ प्रभाव भी कम होगा।


यदि आप गुरु मनीष साईं जी से परामर्श चाहते हैं तो इन नंबरों पर कॉल करें...

+91 6264447100
+91 9617950498

Comments

CAPTCHA code

User's Comment